• Twitter
  • Facebook
  • Google+
  • LinkedIn

Advanced Materials

The Desirable Wrinkles

Study shows how crystallisation can be used to shape materials

Continue reading

Nano-dimension to IoT

Bipolar Junction Transistors enables Bi-CMOS to aid the nation's civilian and strategic interests through the Internet of Things.

Continue reading

Physics behind Perovskite

Researchers at IIT Bombay have identified some unique features common to all perovskite solar cells that would lead to better understanding in terms of device physics and control parameters.

Continue reading

Charging up for a Future

Breakthrough in chemical analysis of Intrinsically Conducting Polymers (ICPs) enables easier identification of polymers suitable for different prospective applications. Researchers at IIT Bombay have come up with a novel and much simpler method to quantify their charge storage characteristics.

Continue reading

Transparent UV Masks

Wouldn’t it be nice to have a transparent sunscreen lotion and yet protect your skin from harmful UV ? Engineered nanoparticles can now provide the right kind of mask.

Continue reading

पेरोवस्काइट की वस्तुतः भौतिकी

भा.प्रौ.सं मुंबई के शोधकर्ताओं ने उन सभी अद्वितीय गुणों की पहचान की है जो सभी पेरोवस्काइट सौर कोशिकाओं में सामान्यतः देखे जाते हैं, जिससे हमें डिवाइस फिजिक्स और नियंत्रण मापदंडों के मामलों को बेहतर समझने में मदद मिलेगी।ऊर्जा के नवीकरणीय स्रोतों में, सूर्य संभवतः हमारी भविष्य की ऊर्जा आवश्यकताओं को पूरा करने का सबसे बढ़िया स्रोत है। पहला फोटोवोल्टेइक सेल लगभग 60 साल पहले, 1954 में बेल लेबोरेटरीज में, बनाया गया था । तब से दक्षता में सुधार लाने और लागतों में कमी लाने के लिए एक बहुत बड़ा शोध किया गया है। फिर भी, सौर कोशिकाओं को अभी तक अपेक्षा के अनुरूप  लोकप्रियता और स्वीकृति नही

Continue reading

चार्जिंग अप फॉर ए फ्युचर

इनट्रिनसीकली कंडक्टिंग पॉलीमर्स (अंतर्निहित रूप से चालक बहुलक) (आईसीपी) के रासायनिक विश्‍लेषण में नई खोज से विभिन्‍न भावी अनुप्रयोगों के लिए उपयुक्‍त पॉलीमर्स (बहुलकों) की आसानी से पहचान हो सकती है ।  भा.प्रौ.सं मुंबई के अनुसंधानकर्ताओं ने उनके आवेश संचयन (चार्ज स्‍टोरेज) अभिलक्षणों को परिमाणित करने के लिए एक नवीन एवं अधिक सरल प्रणाली प्रस्‍तुत की है ।  हमेशा आश्‍चर्य करते हैं कि विद्युत उपकरणों, बैटरियों, माइक्रोइलेक्‍ट्रानिक, विद्युत-चुंबकीय, व्‍यतिकरण परिरक्षकों (इन्‍टफरेंस शील्‍ड्स) और माइक्रोमशीनों को क्‍या जोड़ता है?  एक नया प्रौद्योगिकीय आश्‍चर्य है जिसे इनट्रिनसीकली कंडक्टिंग पॉलीमर

Continue reading
Subscribe to RSS - Advanced Materials